आखिर क्यों जिंदगी से हार गए सुशांत सिंह राजपूत?

Sushant_Singh_rajput_suicide at home

सुशांत आप ऐसे जाओगे, हमे कभी उम्मीद नहीं की थी

चारों तरफ खुशियां बांटने वाला खुद की जिंदगी में इतनी तकलीफ थी कि ऐसा कदम उठाया। बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत रविवार को मुंबई के बांद्रा में अपने घर में छत से लटके पाए गए, अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत, जो बड़े पर्दे पर एक शानदार उपस्थिति बन गए, रविवार दोपहर को मृत पाए गए। मुंबई पुलिस 34 वर्षीय अभिनेता की आत्महत्या के मामले में मौत की जांच कर रही है।

 

सुशांत की आखिरी मूवी छिछोरे सुसाइड बेस्ट मूवी थी।

सुशांत सिंह राजपूत ने अपनी फिल्म छिछोरे के माध्यम से लोगों को यह संदेश पहुंचाया था कि अपनी जिंदगी में चाहे जितने भी उतार-चढ़ाव आए, हमें हार के सुसाइड नहीं करना चाहिए और आज उन्होंने खुद एक बड़ा कदम उठाया। खुद सुसाइड ऐसा कदम उठाना पड़ा। सुशांत सिंह राजपूत अपने घर बांद्रा मुंबई में मृत पाए गये। उन्होंने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। उनका शव उनके घर से बरामद हुआ है।सुशांत सिंह राजपूत ने कई हिंदी फिल्मों में सफल अभिनय किया है। भारतीय क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी पर बनी बायोपिक में भी सुशांत सिंह राजपूत ने दमदार अभिनय निभाया था। इस फिल्म के बाद उन्हें धोनी के नाम से भी जाना जाने लगा था। पुलिस ने कहा कि वे 6 महीने से डिप्रेशन का शिकार थे।

 

इतनी जल्दी बुझ गया चमकता सितारा।

इतना जिंदादिल इंसान थे वे और उनके अंदर चल रहा था इतना बड़ा बवंडर! सुशांत सिंह इतने खुश मिजाज एक्टर थे। उनको देखे कोई यह नहीं कह सकता था कि मैं कभी खुदकुशी जैसा कदम उठाएंगे , लाखो का साथ पाने वाला भी , खुद को अकेला महसूस करता हैं । दूसरों को खुश रखने वाला भी , अपने अंदर मायूसी छिपाए रहता हैं । ना जाने कैसा खेल हैं , ये जिन्दगी अपनों का साथ होते हुए भी ऐसा शर्मनाक निर्णय उठाना पड़ता है
“ ज़िन्दगी फ्री में कुछ नहीं देती है
मौत भी देती है तो
ज़िन्दगी लेकर ”

 

छोटे पर्दे से बड़े पर्दे तक का सफर

सुशांत सिंह राजपूत (21 जनवरी 1986 ) एक भारतीय टेलीविजन और बॉलीवुड अभिनेता, नर्तक, टेलीविजन व्यक्तित्व, एक उद्यमी और एक परोपकारी व्यक्ति थे। राजपूत ने अपने करियर की शुरुआत टेलीविजन धारावाहिकों से की साल 2008 में सुशांत ने टीवी सीरियल ‘किस देश में है मेरा दिल’ से डेब्यू किया। फिर ‘पवित्र रिश्ता’ में वो लीड एक्टर के तौर पर नजर आए। यहीं से सुशांत की किस्मत पलटी और वो घर-घर में पहचाने जाने लगे (2009-11) में पुरस्कार विजेता प्रदर्शन किया गया साल 2013 में सुशांत ने ‘काय पो छे’ से अपने फिल्मी करियर की शुरुआत की। इसमें सुशांत के काम की काफी तारीफ हुई। इसके बाद ‘शुद्ध देसी रोमांस’, ‘डिटेक्टिव ब्योमकेश बक्शी’ और ‘पीके’ जैसी फिल्मों में सुशांत नजर आए। साल 2016 ‘एमएस धोनी: द अनटोल्ड स्टोरी’ में क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी का किरदार निभाकर सुशांत बॉलीवुड पर छा गए। इसके बाद वो ‘राब्ता’, ‘केदारनाथ’, ‘सोनचिरैया’, ‘छिछोरे’ और ‘ड्राइव’ में नजर आए।

पीएम ने भी ट्वीट कर शोक जताया।

सुशांत सिंह राजपूत … एक उज्ज्वल युवा अभिनेता बहुत जल्द चला गया। उन्होंने टीवी और फिल्मों में काम किया। मनोरंजन की दुनिया में उनके उदय ने कई लोगों को प्रेरित किया और वह कई यादगार प्रदर्शनों में पीछे रह गए। उनके निधन से स्तब्ध। मेरे विचार उनके परिवार और प्रशंसकों के साथ हैं। शांति।

12 फिल्मों में काम किया

काय पो छे, शुद्ध देसी रोमांस, पीके, डिटेक्टिव ब्योमकेशबख्शी, एमएस धोनी: अनटोल्ड स्टोरी, राब्ता, वेल्कम टू न्यूयॉर्क, केदारनाथ, सोनचिड़िया, छिछोरे, ड्राइव और दिल बेचारा फिल्मों में काम किया था।

यह कौन सी बेबसी थी जो सुशांत चले गए?

सुशांत सिंह ने बहुत कम उम्र में उन्होंने वह सब हासिल कर लिया था जिसके लिए कई लोग बहुत तरसते हैं, लेकिन उसके बावजूद भी उन्होंने ऐसा कदम उठाया। यह वाकई में सबको हैरान कर देने वाला है।

 

Read also: India lost Incredible talent, know Irrfan khans’ life achievements

 

tags: Sushant Singh Rajput suicide at home, Chichhore, M S Dhoni, Kedarnath fame, achievements, serial actor, film star, Suicide, Bollywood news

2 thoughts on “आखिर क्यों जिंदगी से हार गए सुशांत सिंह राजपूत?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *