मजदूरों पर केमिकल छिड़काव पर मायावती बोलीं || Mayavati tweeted chemical spraying is pathetic in bareilly

mayavati-tweeted-on-chemical-spraying-in-bareilly-voixindia

बरेली में मजदूरों पर हुए केमिकल छिड़काव में मायावती बोली और केंद्र सरकार को सलाह दी || Mayavati tweeted its pathetic

मायावती (Mayavati) ने ट्वीट कर के कहा है – देश में जारी जबर्दस्त लाॅकडाउन के दौरान जनउपेक्षा व जुल्म-ज्यादती की अनेकों तस्वीरें मीडिया में आम हैं परन्तु प्रवासी मजदूरों पर यूपी के बरेली में कीटनााशक दवा का छिड़काव करके उन्हें दण्डित करना क्रूरता व अमानीवयता है जिसकी जितनी भी निन्दा की जाए कम है। सरकार तुरन्त ध्यान दे।

और उन्होंने केंद्र सरकार को सलाह देते हुए बी कहा- बेहतर होता कि केन्द्र सरकार राज्यों का बाॅर्डर सील करके हजारों प्रवासी मजदूरों के परिवारों को बेआसरा व बेसहारा भूखा-प्यासा छोड़ देने के बजाए दो-चार विशेष ट्रेनें चलाकर इन्हें इनके घर तक जाने की मजबूरी को थोड़ा आसान कर देती।

 

बरेली पहुंचे मजदूरों पर हुआ केमिकल का छिड़काव करने वालों पर होगी कार्रवाई | bareilly News live

 

कोरोना लॉकडाउन के दौरान उत्तर प्रदेश के बरेली (bareilly) जिले में पहुंचे प्रवासी मजदूरों लोगों को बीच सड़क पर बैठाकर उनके ऊपर सैनेटाइजर का छिड़काव करने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है भीड़ में बुजुर्ग, बच्चे और महिलाएं भी थीं। आंखों में केमिकलयुक्त पानी जाने से कुछ लोगों की आंखें लाल हो गईं और कुछ बच्चे रोने लगे। सोशल मीडिया पर खबर वायरल हुई तो सपा, बसपा और कांग्रेस ने सरकार पर जमकर निशाना साधा। बरेली में सड़क पर अपने-अपने घरों की ओर जा रहे लोगों को सड़क पर बैठाकर सेनिटाइजर के छिड़काव के मामले में तूल पकड़ लिया है। ट्रैफिक पुलिस और फायर ब्रिगेड के स्टाफ ने बरेली से होकर गुजरने वाले बाहर के यात्रियों को बैठा कर उन्हें सैनिटाइज करने के लिए उन पर पीछे से स्प्रे किया था। यह मामला तूल पकड़ गया। इसे लेकर केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार ने भी डीएम से बात की।

 

केमिकल छिड़काव करने वालों पर होगी कड़ी से कड़ी कार्रवाई। bareilly news live

 

डीएम नीतीश कुमार ने कहा कि फायर ब्रिगेड और नगर निगम की टीम को बस स्टैंड एरिया और खाली बसों को सैनिटाइज करने के निर्देश दिए गये थे। इसी दौरान कुछ कर्मचारियों ने मजदूरों पर बौछार कर दी थी। उन्हे ऐसा करने के निर्देश नही दिए गए थे।ऐसा किन लोगों ने किया यह देखा जा रहा है। इस मामले की जांच होगी। डीएम नीतीश कुमार ने बताया कि सैटेलाइट बस अड्डे पर कुछ लोगों के ऊपर केमिकल युक्त पानी का छिड़काव कोरोना वायरस से बचाव के लिए किया गया था। गलत तरीका है। मामले की जांच कराई जा रही है। लापरवाही बरतने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

 

आंखों के लिए केमिकल है नुकसानदायक कर रहे जांच |

 

सीएफओ बरेली चंद्र मोहन शर्मा ने बताया कि रविवार को सैटेलाइट बस स्टैंड पर मजदूरों को बिठाकर सोडियम हाइड्रोक्लोराइड केमिकल से नहला दिया गया। केमिकल आंखों के लिये नुकसान दायक है। सोडियम हाइड्रोक्लोराइड का छिड़काव निर्जीव वस्तुओं दीवारों पर किया जाता है।

 

 आइए जानते हैं क्या था पूरा मामला?

 

रविवार को तमाम लोग अपने घर जाने के लिए सेटेलाइट बस अड्डे पर पहुंचे थे। इन सभी को सेनेटाइज करने के लिए सड़क पर बैठा दिया गया और सभी से आंख बंद कर लेने को कहा गया और फिर इन पर दमकल की गाड़ी से सोडियम हाइपोक्लोराइड की बारिश कर दी गई। इस दौरान कुछ लोगों की आंख में पानी चला गया और उनकी आंखों में जलन होने लगी।

 

tags: #Mayavati #bareilly#Chemical Spraying on laborers #Pathetic #Firebrigade #NagarNigam #D M Nitish kumar #bareilly live #bareilly news #bareilly news live

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *